Skip to main content

बैट किस लकड़ी से बनता है | Cricket Bat Kis Lakdi Se Banta Hai

दोस्तों क्या आपको पता है, महेंद्र सिंह धोनी, विराट कोहली जैसे महान क्रिकेटर्स किस बेट से क्रिकेट खेलते है?

Written By: Sonali Das अगर नही पता तो चलिए इस खबर के जरिए जानने कि कोशिश करते हैं दोस्तों क्रिकेट का कीड़ा हमारे देश में सभी के अंदर है तो ऐसे में ये सवाल जरूर दिमाग़ में आता है कि आखिर ये बल्ला बनता किस चीज़ से है .

दरहसल ये क्रिकेट बैट Willow लकड़ी से बनाया जाता है, जिसका साइंटिफिक नाम सैलिक्स है, ,विलो लकड़ी के बेट से खेलने का चलन इंग्लैंड से शुरू हुआ क्योंकि क्रिकेट का जन्म ही इंग्लैंड में हुआ था और विलो पेड़ इंग्लैंड के अलावा ,यूरोप और भारत के कश्मीर में पाए जाते है।

मुख्यतः विलो लड़कीया तीन प्रकार के है.

पहला हाई क्वालिटी ग्रैड 1 कश्मीर विलो, दूसरा इंग्लिश विलो और तीसरा सेलेक्टेड विलो। जिनमे इंग्लिश विलो काफी मेहंगा होने के साथ ही हल्का और मजबूत होता है 

जबकि selected विलो सस्ता और बच्चो के क्रिकेट खेलने के लिए होता है, इस लकड़ी का वजन काफी ज्यादा होता है, इसे सिजनिंग कर इसका वजन कम किया जाता है लेकिन ये खेलने लायक तब बनता है जब इसे खास प्रकार के मशीन में दबा दिया जाता हैं।  जिससे इसका खेलने वाला सतह काफी मजबूत हो जाता है

एक अच्छे क्रिकेट बैट की पहचान है, उसमे लगा ग्रैन। ग्रैन दाग लड़की में दिखने वाली लिनेसहोती है जो दर्शाती है की लड़की कितना पुराना है और ये धरना भी है की जितना पुराना विलो लकड़ी उतना अछा बैट। 

भारत में ज्यादातर खिलाड़ी इंग्लिश विलो से खेलते है, जो कि मेरठ से बनकर आता है.
दोस्तों आपको ये जानकारी कैसी लगी हमे Comment कर के बताए , साथ ही हमारे YouTubeचैनल को सब्सक्राइब करना ना भूलें.

Comments

Popular posts from this blog

Saloniyaapa Leaked Viral Video: यहाँ मिलेगा आपको MMS Link का पूरा सच | Fact Check | Outlined

फेस्बूक से लेकर गूगल तक अचानक लोग पागलों की तरह खोज रहे Youtuber Saloniyaapa का विडिओ। आखिर ऐसा क्या हुआ जिसके वजह से इसे saloniyaapa leaked mms video कहाँ जाने लगा। चलिए जाने  है क्या पूरा सच ? claimed image, saloniyaapa viral mms  कौन है Saloniyaapa : अपनी प्यारे सी मुस्कान और अदाए के बल पर  (real name) Saloni Singh ने काफी जल्दी सोहरत पाई है।  Saloni singh aka Saloniyaapa के instagram पर करीब 1.5 मिलियन फॉलोवर्स है जो इनके इंस्टाग्राम रील्स देखना काफी पसंद करते है, साथ ही इनके यूट्यूब चैनल पर भी लगभग 2 मिलियन सब्सक्राइबर है। 19 वर्षीय सलोनी सिंह बैंगलोर में रह कर ही वीडियोज़ बनाती है. क्या है पूरा मामला: दर्शल सोशल मिडिया में एक तस्वीर काफी viral हो रही है जो आप ऊपर देख सकते है।  जिसके कैप्शन में लिखा गया है "तो Anjali Arora के बाद पेश है Miss Saloniyaapa"  और इसके कमेंट्स को हाइलाइट कर दिखाया जा रहा है की लोग saloniyaapa video link को खोज रहे है, इस देश को क्या हो गया है और भी बहुत कुछ। जिसके बाद से लोग इस विडिओ के लिंक को खोज रहे है।  famous youtuber saloniyaapa instagram

30% Discount पाएं भारत के इस Library Salon में | Pon Mariappan

आप सैलून तो जाते ही होंगे लेकिन क्या आप एक ऐसे Salon जाना पसंद करेंगे जहां Book पढ़ने के वजह से आपको 30% Discount दिया जाता है,चौकिए मत भारत में एक ऐसा ही अनोखा  सैलून है जहां डिस्काउंट लेने के लिए बुक पढ़ते है।  Tamil Nadu के Thoothukudi  जिले में 38 वर्षीय " पी पोनमरियाप्पन " नाम का एक व्यक्ति मिलरपुरम इलाके में अपना Library Salon का बिजनस chalate है। बचपन में शिक्षा से वंचित रहने वाले " पोन मरियप्पन"  का कहना है कि उन्हे लगता है कि पढ़ना एक बहुत अच्छी आदत है और युवाओं को अच्छी किताबें पढ़ते रहना चाहिए, इसी वजह से Pon Mariappan सैलून में वैसे Customers को में 30 प्रतिशत छूट देते हैं जो उन किताबों को पढ़ते हैं और उस पर अपनी प्रतिक्रिया देते हैं.  पोन मरियप्पन ने इसकी शुरुवात 5-6 किताबों से की थी लेकिन  आज उनके सलून में करीब 800 से अधिक किताब है, इसके साथ-साथ उनके सैलून में म्यूजिक सिस्टम भी लगा हुआ है जहां वह तमिल भाषा में स्पीच चलाते हैं। क्या कमाल का idea अपनाया है पोनमरियाप्पन ने अपने ग्राहकों को और शिक्षित बनाने  के लिए वो कहते है ना " एक अच्छी किताब,

Project Baala: जिनके प्रयास ने बदल दी 3 लाख महिलाओं की जिंदगी | Changed Life of 3 Lakhs Womens with Reusable Sanitary Pads | Outlined

प्रोजेक्ट बाला, नाम सुनते ही दिमाग में आया अरे! यह क्या बला है? वैसे महिलायें जो आज भी माहवारी के दौरान किसी गंदे कपड़े का रोजाना प्रयोग करती है उन्हे सही जानकारी के साथ पैड्स भी मुहैया कराती है, तो चलिए जानते है कौन है इसकी Founder, Soumya Dabriwal जिसने बदल दी 3 लाख से अधिक महिलाओं की किस्मत।   Project Baala educating school students in workshop Menstrual health and hygiene के बारे में जानकारी और मदद कर लड़कियों से लेकर महिलाओं को जिंदगी बांटती है Project Baala. महिलाओं के हक को समझाते हुए कॉन्फिडेंस से जीना सिखाती है प्रोजेक्ट बाला। आप में से कितने लोग Menstrual Cycle या यूं कहे Healthy Period Cycle के बारे में जानते हैं? बेहद कम, क्योंकि हमारे समाज में इन विषयों पर बात करना सही नहीं माना जाता है। Periods के दौरान होने वाली परेशानियों के साथ साथ प्रोजेक्ट बाला लड़कियों को यह सिखाती है कि Menstruation को लेकर समाज में जो भी टैबूस है, वह गलत है। मासिक धर्म में परहेज, जैसे कि- 1. माहवारी यानी मेंस्ट्रूअल साइकिल (menstrual cycle) के दौरान अशुद्ध हो जाती है । 2. महिलाओं को इ